दिल्ली दंगों में घर जलने के बाद बीएसएफ जवान ने कहा ‘जो हुआ वह भयानक था’

0 comment
दिल्ली दंगों में घर जलने के बाद बीएसएफ जवान ने कहा 'जो हुआ वह भयानक था' - India News Digpu

हिंसा के चश्मदीद, बीएसएफ जवान अनीस के पिता, मोहम्मद यूनुस ने कहा, “स्थिति भयानक थी । तीन घंटे तक मैंने दोनों तरफ से सरासर हिंसा देखी । संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया गया, कारों में आग लगा दी गई ।

दिल्ली हिंसा के दौरान 25 फरवरी की दोपहर खजूरी ख़ास में रहने वाले बीएसएफ के जवान मोहम्मद अनीस ने कहा था कि जो हुआ वह बहुत भयानक था और वह  भाग्यशाली महसूस करता है की वह बीएसएफ का हिस्सा है  क्योंकि बीएसएफ ने उसके घर के पुनर्निर्माण की जिम्मेदारी संभाली है ।

“यहाँ स्थिति भयानक है, लेकिन सब कुछ ठीक हो जाएगा। मेरे सभी साथी मेरी मदद कर रहे हैं। मैं बीएसएफ का हिस्सा हूँ इसके लिए खुद को  भाग्यशाली मानता  हूं, ”एएनआई  से बात करते हुए अनीस ने कहा।

उसने कहा, “मैं जब से पैदा हुआ हूँ और यहां आया हूँ तब से मैंने अपने जीवन में ऐसा कभी नहीं देखा। भविष्य में ऐसा कुछ भी नहीं होना चाहिए और मुझे उम्मीद है कि सभी लोग शांति से रहेंगे।“

हिंसा के चश्मदीद, बीएसएफ जवान अनीस के पिता, मोहम्मद यूनुस ने कहा, “स्थिति भयानक थी । तीन घंटे तक मैंने दोनों तरफ से सरासर हिंसा देखी । संपत्तियों को नुकसान पहुंचाया गया, कारों में आग लगा दी गई ।

उसने यह भी कहा,“उन्होंने हमें घर से निकालने के बाद हमारे घर में आग लगा दी। फिर हमें छुड़ाने के लिए बल (पुलिस) हमारे घर आया। बीएसएफ स्टाफ भी मदद के लिए आया; अधिकारियों ने भी हमारे घर के पुनर्निर्माण का वादा किया। यहां तक कि ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी हमारे लिए मुआवजे की घोषणा की है।”

शुक्रवार को, यूनुस ने कहा था, “मैं पिछले 40 सालों से दिल्ली में रह रहा हूं और कभी नहीं सोचा था कि हम ऐसा कुछ देखेंगे। अनीस ने मुझसे कहा कि थोड़ा धैर्य रखो। अनीस की शादी तय हो गई है हमने इस हिंसा के कारण शादी को स्थगित कर दिया है। परिवार गांव गया हुआ था। मैं उनसे कहता हूं कि जब तक शांति बहाल ना हो, यहां नहीं आए। ”

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की सांप्रदायिक हिंसा में एक पुलिस हेड कांस्टेबल सहित कम से कम 42 लोगों की मौत हो गई है, जबकि लगभग 200 लोग घायल हो गए हैं। दिल्ली हिंसा की जांच के लिए क्राइम ब्रांच, दिल्ली पुलिस के तहत दो विशेष जांच दल (SIT) का गठन किया गया है।

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy