देशटेक्नोलॉजी

COVID-19: मदद माँगकर साइबर अपराधियों द्वारा कश्मीर के लोगों को लूटने की कोशिश

COVID-19 महामारी और लॉक डाउन के समय में कश्मीर में कुछ साइबर अपराधी इन्टरनेट के माध्यम से लोगो के साथ धोखाधड़ी कर रहे हैं |

COVID-19 का डर लोगों को घर के अंदर रहने के लिए मजबूर कर ही रहा है, साथ ही साइबर अपराधियों ने इसे घाटी में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को धोखा देने के अवसर के रूप में देखा है। इस महामारी और लॉक डाउन के समय में कश्मीर में कुछ साइबर अपराधी इन्टरनेट के माध्यम से लोगो के साथ धोखाधड़ी कर रहे हैं |

“24 मार्च को, मुझे एक फेसबुक प्रोफ़ाइल से एक संदेश मिला। जब मैंने संदेश देखा, तो यह एक व्यक्ति द्वारा भेजा गया था, जो जम्मू-कश्मीर के पूर्व मंत्री, अब्दुल गनी कोहली होने का नाटक कर रहा था “- , पुलवामा निवासी आशिक हामिद कहते हैं।

जम्मू कश्मीर के पुलवामा निवासी आशिक हामिद कहते है कि  उनके फेसबुक नंबर पर उनके पास जम्मू-कश्मीर के पूर्व मंत्री अल अब्दुल गनी कोहली का संदेश आता है तथा यह व्यक्ति आशिक हामिद का बैंक खाता संख्या मांगता है लेकिन यह व्यक्ति आनाकानी के साथ अपना परिचय छिपा लेता है जो 15000 रु की मांग कर रहा था लेकिन आशिक हामिद से इस व्यक्ति ने अपना बचाव किया इस प्रकार अनेक लोगो ने इस लॉक डाउन के चलते अपना काफी आर्थिक नुकसान उठाया है और उठा रहे है इसलिए हम आपसे भी अनुरोध करते है की आप सतर्क रहें कि ऎसे किसी भी अनजान फेसबुक या व्हाटस एप नंबर पर अपना कोई भी विवरण पूरी जांच के बिना ना दे अन्यथा आप भी धोखाधड़ी का शिकार हो सकते है |

Back to top button