कोरोनाकाल में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट के माध्यम से अर्जित किया 60 करोड़ रुपये से भी अधिक की अतिरिक्त आय ।

South East Central Railway earned additional income of more than Rs 60 crore through the Business Development Unit during the Corona

बिलासपुर

कोरोनाकाल जैसी वैश्विक महामारी के दौर में भी दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट के माध्यम से 60 करोड़ रुपये से भी अधिक की अतिरिक्त आय अर्जित किया है । कोरोनाकाल में भारतीय रेलवे ने देश की जरूरतों को पूरा करने के लिए आवश्यक वस्तुओ का परिवहन, बिजलीघरों को कोयले की सतत आपूर्ति कर न सिर्फ देश के प्रति अपनी जिम्मेदारियो को पूरा किया है बल्कि अपनी आय को भी बढ़ाने के लिए प्रयासरत रहा है ।

इसी का ही परिणाम है कि इस रेलवे के तीनों रेल मंडलो बिलासपुर, रायपुर एवं नागपुर तथा मुख्यालय में बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट का गठन कर कार्य किया जा रहा है । नवगठित बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट का अभी तक कुल 26 मीटिंग अधिकारियों एवं हमारे सम्माननीय ग्राहको के मध्य किया जा चुका है और इसका सार्थकपरिणाम भी मिलना शुरू हो गया है । बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट के माध्यम से पारंपरिक लदान से हटकर कई नये वस्तुओ का रेल के द्वारा परिवहन शुरू किया गया है जिसमे फ्लाई एश, क्वारटाइज़, लौह अयस्क, शक्कर जैसी वस्तुएँ शामिल है ।

बिजनेस डेवेलपमेंट यूनिट की अनुशंसा पर रेलवे बोर्ड के द्वारा भी कई फ्रेट पॉलिसी को बदला गया है जिसका लाभ लदान बढ़ाने एवं हमारे ग्राहको को उनके वस्तुओं का सस्ता एवं सुविधाजनक परिवहन के रूप में मिल रहा है । रेलवे द्वारा सीमेंट लोडिंग के लिए मिनी रैक को लंबी दूरी के लिए लदान की अनुमति दी गई जिससे अतिरिक्त माल ढुलाई को सड़क मार्ग या अन्य साधनो पर आश्रित होने से रोकने में मदद मिली है ।

बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट लगातार फैक्ट्री मालिकों, कंपनियों, छोटे व्यापारियों और वाणिज्यिक संगठनों से संपर्क स्थापित करते हुए उन्हें रेलवे द्वारा दी जा रही रियायतों से अवगत करा रहें हैं तथा माल परिवहन के लिए प्रोत्साहित करते हुये अधिकाधिक लदान के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है, जिसका सार्थक परिणाम आगे भी रेलवे को मिलता रहेगा ।

Be the first to comment on "कोरोनाकाल में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने बिजनेस डेवलपमेंट यूनिट के माध्यम से अर्जित किया 60 करोड़ रुपये से भी अधिक की अतिरिक्त आय ।"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*