फाइनेंस

सौरभ भटनागर ने वित्तीय स्वतंत्रता का रास्ता दिखाया

इंटरनेट के अग्रणी एन्त्रेप्रेंयूर्स में से एक सौरभ भटनागर सफलता प्राप्त करने के बारे में कहते हैं, “औपचारिक शिक्षा बिलों का भुगतान करती है, लेकिन आत्म शिक्षा आपको धनवान बनाती है ।”

सौरभ ने डिगपू से बातचीत में वित्तीय स्वतंत्रता हासिल करने की दिशा में अपनी यात्रा के बारे में जानकारी दी । इस बारे में  बातचीत के दौरान कई तथ्य सामने आये।

सौरभ भटनागर ने हाल ही में अपने सॉफ्टवेयर “मार्केटप्रेसो” के अंतरराष्ट्रीय प्रक्षेपण का समापन किया है और उन्होंने साझा किया कि प्रक्षेपण ने सिर्फ आठ दिनों में एक बड़े पैमाने पर 6-आंकड़ा USD राजस्व उत्पन्न किया गया  ।

वे कहते हैं, “अंतरराष्ट्रीय प्रक्षेपण एक ऐसा मार्ग है कि जिससे आप एक नवनिर्मित उत्पाद को सहयोगी कंपनियों और प्रभावितों के नेटवर्क की मदद से हजारों संभावित खरीदारों के सामने ले जाना ।”

सौरभ कहते हैं ,”यह सच है कि अंतरराष्ट्रीय प्रक्षेपण आमतौर पर काम सुनने को मिलता है। भारत में मुश्किल से 15-20 प्रोडक्ट लॉन्चर मौजूद हैं। यह एक दुर्लभ क्षेत्र है और इसलिए अत्यधिक लाभदायक है । मुझे इसके बारे में पता चला क्योंकि मैंने शुरू में  कुछ सॉफ्टवेयर ऑनलाइन खरीदे और फिर ऑनलाइन हो रही लॉन्च की प्रवृत्ति देखी। बहुत दिन के आत्म-शिक्षा के बाद, मैं इस व्यवसाय के विवरण को समझने में सक्षम था ।”

सौरभ स्वशिक्षा की अवधारणा पर बहुत ज़ोर देते हैं, इतना ही नहीं वह यह मानते हैं कि आजकल स्वशिक्षा सबसे मह्त्वपूर्ण है। वे कहते हैं, “मैंने स्वशिक्षा के बल पर ही अपना पूरा जीवन बनाया है।आज मैं अपने ऑनलाइन बिजनेस में जो कुछ भी करता हूं, वह सेल्फ लर्निंग की वजह से है, इस बारे में मेरे कॉलेज या किसी भी कॉलेज में कभी कुछ भी नहीं पढ़ाया गया ।

सौरभ के लिए, सब कुछ स्वशिक्षा से और मेंटरिंग कार्यक्रमों में भाग लेने का ही परिणाम है । मजे की बात यह है कि सौरभ कोडिंग या टेक्निकल बैकग्राउंड से नहीं आते हैं। वह फिजिक्स (ऑनर्स) के ग्रेजुएट हैं । वह कहते हैं, यह एक मिथक है कि अगर आप तकनीकी पृष्ठभूमि से आते हैं तो ही आप ऑनलाइन सफल बन सकते हैं।

यह स्पष्ट है कि सौरभ अपनी जबरदस्त क्षमता और ‘ फ्यूचर प्रूफ ‘ होने की महत्वपूर्ण गुणवत्ता को देखते हुए अपने बिजनेस मॉडल से संतुष्ट हैं ।

जो लोग सौरभ के इस मॉडल में रुचि रखते हैं उनके लिए, सौरभ ने एक प्रोग्राम तैयार किया है जो लोगों को एक सफल ऑनलाइन व्यापार हासिल करने के लिए कारगर सिद्ध होगा । इस कार्यक्रम के बारे में अधिक जानने के लिए, इस वेबसाइट पर जाएं।

अब सौरभ भारत में लोगों के साथ उस ज्ञान और अनुभव को साझा करके मदद करना चाहते हैं जो उन्होंने इतने वर्षों की अवधि में हासिल किया है । इसके लिए उन्होंने सौरभ भटनागर यूनिवर्सिटी नाम से अपनी ऑनलाइन मार्केटिंग और ऑनलाइन यूनिवर्सिटी शुरू की है। 80,000 से अधिक बिज़नेसमेन और ऑनलाइन व्यापार के प्रति उत्साही पहले से ही उनके विश्वविद्यालय का हिस्सा हैं ।

विश्वविद्यालय के पीछे उनका दृष्टिकोण दर्शकों को घर बैठ के सीखने और सही सलाह लेकर अपने ऑनलाइन व्यवसाय को शुरू करने का अवसर देना है । उनका कहना है कि उन्हें अपनी यात्रा की शुरुआत में कोई सलाह नहीं मिली और यही कारण है कि उन्हें शुरू में काफी संघर्ष करना पड़ा । इसलिए वह उन लोगों को मदद का हाथ देना चाहते हैं जो अभी अपनी जीवन यात्रा आरम्भ कर रहे हैं।

सौरभ भटनागर कहते हैं, “किसी भी पृष्ठभूमि से कोई भी एक सफल ऑनलाइन व्यवसाय चला और संचालित कर सकता है, बशर्ते कि उनके पास सही जानकारी हो । इसलिए, मैंने इस विश्वविद्यालय की शुरुआत की।”

युवा उद्यमियों के लिए उनकी सलाह के बारे में पूछे जाने पर सौरभ भटनागर कहते हैं, ” अपना काम करते रहें, विशेषज्ञ उपदेशक से सीखें, उदाहरणात्मक कार्य नैतिकता बरकरार रखें, कभी हार न मानें और अपनी यात्रा का आनंद लें ।”

Back to top button