मिनेंस: कंपनियों के आईपीओ लॉन्च करने से पहले ही उनमें निवेश करें

by Chitra Singh
मिनेंस: कंपनियों के आईपीओ लॉन्च करने से पहले ही उनमें निवेश करें - Finance News Digpu

मिनेंस प्राइवेट बाजार अपनी वेबसाइट पर सभी उपलब्ध शेयरों को सूचीबद्ध करता है जो कि 50,000 रुपये की एक न्यूनतम खरीद सीमा के एक डीमैट खाते के साथ खरीदा जा सकते हैं।

मिनेंस प्राइवेट मार्किट, असूचीबद्ध शेयर खरीदने के लिए और संस्थागत निवेशक के लिए एक खुला और पारदर्शी बाजार है। दूसरे शब्दों में, कंपनियां अपना IPO घोषित कर दें उससे पहले ही आप उनके शेयर खरीद सकते हैँ। मिनेंस एक सुविधा दाता के रूप में कार्य करता है जो कर्मचारियों को ESOPs से जोड़ता है जो कि ज्यादातर वरिष्ठ स्तर के प्रबंधन के लोग या CXOs के साथ-साथ परिपक्व व्यक्तिगत भारतीय निवेशक तथा वैश्विक संस्थागत निवेशक हैं।

यह स्टार्ट-अप कल्चर में तेजी के साथ शुरू हुआ और कंपनियों ने स्टॉक विकल्प प्रदान करके कॉर्पोरेट जगत भर में प्रतिभाओं को आकर्षित किया । किसी ऐसे व्यक्ति का पता लगाना चुनौतीपूर्ण है जो उस कंपनी के शेयर का मालिक है जिसे आप प्राप्त करना चाहते हैं। यहाँ मिनेंस प्राइवेट मार्केट (एमपीएम) एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

मिनेंस प्राइवेट मार्केट अपनी वेबसाइट पर सभी उपलब्ध स्टॉक को सूचीबद्ध करता है और इन्हें डीमैट खाते के साथ न्यूनतम 50,000 रुपये की न्यूनतम खरीद सीमा के साथ खरीदा जा सकता है। यह उल्लेखनीय है कि कोई भी अन्य कंपनी इन शेयरों को ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर नहीं बेच सकती है, क्योंकि एमपीएम के पास इस एल्गोरिदम का एक प्रोसेस पेटेंट है। प्रक्रिया यह है कि मिनेंस खरीदार और विक्रेता को जोड़ने के लिए इस मंच के माध्यम से एक निजी या सीमित कंपनी के शेयरों को लेन-देन करने के लिए एक सुविधा के रूप में कार्य करता है।

मान लें कि कोई ‘एबीसी’ कंपनी के शेयर खरीदना चाहता है जो अभी तक किसी भी स्टॉक एक्सचेंज पर सूचीबद्ध नहीं है, लेकिन मिनेंस वेबसाइट पर सूचीबद्ध है (हमारे पास वर्तमान में 21 कंपनियां हैं लेकिन जल्द ही 60 तक विस्तार करेंगे), सभी को स्टॉक आइकन पर क्लिक करने और इसे ऑनलाइन शॉपिंग की तरह कार्ट में जोड़ना और हमारे सुरक्षित पेमेंट गेटवे के माध्यम से पेमेंट करिये। भुगतान प्राप्त करने पर, ग्राहक को सभी डिटेल्स के साथ चालान प्राप्त होगा और स्टॉक 7 दिनों के भीतर उनके डीमैट खाते में स्थानांतरित कर दिया जाएगा। हम शीघ्र ही माध्यमिक एआईएफ, प्राइवेट क्रेडिट और ग्लोबल स्टार्ट-अप लॉन्च कर रहे हैं।

मिनेंस प्राइवेट मार्केट द्वारा पेश किए गए कुछ यूनिकॉर्न स्टॉक में PAYTM और OYO शामिल हैं, वे खोजने में कठिन हैं और अगर कोई इन कंपनियों में IPO को हिट करने से पहले निवेश करना चाहता है, तो अब सही समय होगा। मिनेंस प्राइवेट मार्केट के साथ सूचीबद्ध कुछ अन्य कंपनियां Tamil Nadu Mercantile Bank, Reliance Retail, Bira, HDFC Securities आदि हैं।

इन अनलिस्टेड स्टॉक्स को खरीदने के सही समय को लेकर आशंकाओं के मामले में यह समझना जरूरी है कि आमतौर पर आईपीओ मारने के बाद इन कंपनियों के स्टॉक प्राइस बढ़ जाते हैं, इसलिए क्या इन्हें खरीदने का यह सही समय है? शायद हाँ!

आइए आरबीएल बैंक का मामला लें जिसमें 2014 में 58 रुपये की कीमत वाला उसका अनलिस्टेड स्टॉक था। बैंक सितंबर 2016 में 320 रुपये के शुरुआती मूल्य के साथ आईपीओ के लिए गया था जो एक साल के भीतर बढ़कर ५५० रुपये हो गया । यह एक १० गुना लाभ है!

सामान्य तौर पर निजी परिसंपत्तियों का नकारात्मक पक्ष सीमित होता है । वे बहुत ज्यादा दर से नहीं गिरते हैं । इनकी तुलना रियल एस्टेट संपत्ति से की जा सकती है। जब अर्थव्यवस्था डूबने लगती है और शेयर बाजार भी दुर्घटना ग्रस्त हो जाता है जैसा की वर्तमान में हो रहा है सब घबरा जाते हैं। हर अखबार में दलाल स्ट्रीट के बारे में अजीबो-गरीब सुर्खियां पड़ना कोई भी पसंद नहीं करता। इस सब शोर के बीच उन्माद के कारण लोग अपने निवेश बेचते हैं।

शेयर बाजारों में हालिया गिरावट के साथ ही समग्र नकारात्मक भावनाओं और अत्यधिक तरलता की कमी के कारण अनलिस्टेड बाजार ने भी थोड़ी टक्कर ली है। स्टॉक्स अपने जनवरी कीमतों के हिसाब से 15% के आसपास की छूट मैं उपलब्ध है और हमें आगे भी किसी गिरावट की उम्मीद नहीं है, इसलिए यह सही समय के लिए निजी संपत्ति में निवेश कर रही है ।

मिनेंस निजी बाजार निवेशकों के लिए एक परिष्कृत समाधान प्रदान करता है जो अपने पैसे को गैर-सूचीबद्ध शेयरों मैं निवेश करता है जो अभी निवेश बाजार में  भी नहीं आये हैं।

Related Articles

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept

Privacy & Cookies Policy