ओपिनियनदेश

महिलाओं के लियें परिवार और काम के बीच में सफल प्रबंधन (WAHM)

एक माँ अपने बच्चों को भी पालती हैं साथ ही घर और ऑफिस का भी सफल प्रबंधन करती हैं – यह प्रबंधन सिर्फ आप कामकाजी महिलाओं में ही देख सकते हैं|

कामकाजी महिलाओं के पास अपनी आवश्यक काम के साथ अपने परिवार को समय और ज़रूरत के सभी कामों के लियें एक संतुलित प्रबंधन हैं घर पर काम एक नई घटना की तरह हैं |

कभी कभी महिलाएं बच्चें होने के बाद या तो काम करती हैं या घर रहती हैं l पहले ऐसी माँ को ढूंढना दुर्लभ था जो कामकाजी भी हो और परिवार भी संभालती हो लेकिन अब ऐसा लगता हैं कि महिलाएं घर पर काम काज के साथ ही परिवार संभालने और अपनी जिम्मेदारियों का पूर्ण ईमानदारी व निष्टा से पालन करने में सर्वश्रेष्ठ हैं l

हालांकि की वास्तविकता यह हैं कि आपके घर के सीमाओं के भीतर ऑफिस का काम औऱ गृहस्थ जीवन में बेहतर संतुलन के लियें आप इन सुझावों पर गौर करें –

  1. कार्यस्थल निर्धारित करें –

यह उन कामकाजी महिलाओं के लियें कठिन हो सकता हैं जो विशेषतौर पर जब अपने बच्चों को समझायें की आप घर से ऑफिस का काम करती हैं यह आप के छोटे बच्चों के लियें थोड़ा अजीब लग सकता हैं जब आप उन्हें कहे कि आप एक निर्धारित कार्यलय (ऑफिस) का स्थान छोड़ कर घर को ही अपना कार्यस्थल बनाती हैं लेकिन एक बार बच्चों में यह समझ विकसित हो जायेगी की आम घर पर रहकर अपना ऑफिस काम करती हैं तो साइकोलॉजीकल आप के बच्चें यह समझ बना पायेगें की आप घर से कामकाज करती हैं और वह आप को परेशान नहीं करेंगे l

  1. बच्चों की देखरेख के लियें आया ( दाई ) रख सकती हैं

आप घर पर कुछ घंटों के लियें एक आया भी रख सकती हैं जो आपकी देखरेख में रहकर घर का काम भी कर लें और आपके बच्चों को भी संभाल ले जिससे आप घर पर बिना किसी रूकावट के अपना काम कर सकती हैं परिवार के लियें समय बचा सकती हैं और ऑफिस के काम और घर – बच्चों में संतुलन बना सकती है वो भी अपनी आँखों सामने अपनी उपस्थिति में l

Managing Work And Family As A Work At Home Mom 2

  1. कामकाजी महिलाएं प्राथमिकता दे कि वह कोनसा काम छोड़ सकती हैं और कोनसा नहीं –

घर पर काम करने के लियें आपको औऱ आपके परिवार को कुछ सामंजस्य स्थापित करना होगा

ऐसा करने के लिए आप मानसिक रूप से तैयार रहें .आप क्या छोड़ सकते हैं और क्या नहीं

जैसे – आपका फ़ेवरेट टीवी कार्यक्रम या बच्चों के साथ खेलना आदि

  1. कार्य शेड्यूल निर्धारित करें –

आप एक कामकाजी महिला हैं आपको यह निर्धारित करना होगा कि आप किस समय क्या काम करेगी और कितना काम करेगी क्योंकि आप की पारिवारिक व कामकाज की जिम्मेदारियां अधिक है उन में संतुलन बनाए l

5.मदद मांगने से नहीं दरें –

आप कामकाजी व गृहस्थी जीवन से हैं और विभिन्न रिश्तों में आपकी जिम्मेदारी अधिक हैं आप अपने पति दोस्तो व परिवारजनों से सहायता भी मांग सकती हैं जिससे आप का काम का बोझ हल्का होगा और आप शाररिक व मानसिक रूप से तनाव मुक्त रह सकती हैं

उपरोक्त डिग्पु ओपिनियन के आधार पर आप अपने कामकाज जीवन व पारिवारिक जीवन में एक बेहतर संतुलन बना सकती हैं l

Back to top button